हिमाचल प्रदेश चुनाव: 7 एग्जिट पोल में BJP की बड़ी जीत का अनुमान, मिल सकती हैं 40+ सीटें

uploaded on : 2017-12-15 08:03:33

शिमला // हिमाचल प्रदेश के एग्जिट पोल में कांग्रेस की हार का अनुमान लगाया गया है। एबीपी-सीएसडीएस, इंडिया टुडे-एक्सिस, इंडिया न्यूज सीएनएक्स, REPUBLIC-सी वोटर और न्यूज 24- टुडे चाणक्य समेत करीब 7 एग्जिट पोल ने बीजेपी को 40 से ज्यादा सीट दी हैं। इनमें से दो ने कहा कि बीजेपी को 51 सीटेंं मिल सकती हैं। हिमाचल प्रदेश की 68 विधानसभा सीटों के लिए 9 नवंबर को सिंगल फेज में वोटिंग हुई थी। मेजॉरिटी के लिए 35 सीट चाहिए। नतीजे 18 दिसंबर को आएंगे।
 
हिमाचल प्रदेश चुनाव के एग्जिट पोल अपडेट्स
1) एबीपी-सीएसडीएस
कुल सीटें बीजेपी कांग्रेस अन्य
68 47-55 13-20 02
2) इंडिया टुडे-एक्सिस
कुल सीटें बीजेपी कांग्रेस अन्य
68 47-55 13-20 02
3) इंडिया न्यूज- CNX
कुल सीटें बीजेपी कांग्रेस अन्य
68 44-55 18-24 02
4) न्यूज 24- टुडेज चाणक्य
कुल सीटें बीजेपी कांग्रेस अन्य
68 55 13 00
5) REPUBLIC-सी वोटर
कुल सीटें बीजेपी कांग्रेस अन्य
68 41 25 02
6) जी न्यूज- एक्सिस पोल
कुल सीटें बीजेपी कांग्रेस अन्य
68 51 17 00
7) टाइम्स नाउ-वीएमआर
कुल सीटें बीजेपी कांग्रेस अन्य
68 51 16 01
2017 में कौन-कितनी सीटों पर लड़ा चुनाव
पार्टी
सीटें
बीजेपी
68
कांग्रेस
68
बीएसपी
42
सीपीएम
14
हिमाचल के चुनाव में इन 4 चेहरों की साख दांव पर
1) नरेंद्र मोदी
- राज्य में इस बार का चुनाव मोदी के नाम पर लड़ा गया। 3 अक्टूबर को मोदी ने राज्य का दौरा कर 1500 करोड़ की योजनाएं शुरू की थीं।
2) राहुल गांधी
- गुजरात की तरह हिमाचल में भी राहुल गांधी ने दौरा किया। उन्होंने कहा था कि मौजूदा मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ही सीएम कैंडिडेट रहेंगे। राहुल ने मंडी में विकास से विजय रैली में मोदी सरकार पर जीएसटी, नोटबंदी जैसे फैसलों पर हमला बोला था।
3) वीरभद्र सिंह
// हिमाचल प्रदेश के मौजूदा सीएम हैं। हिमाचल में सबसे लंबे वक्त तक मुख्यमंत्री रहे। 5 बार लोकसभा सांसद रहे। हालांकि, वीरभद्र सिंह और उनके परिवार पर करप्शन के आरोप भी लगे हैं। उन पर मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज है। सीबीआई इसकी जांच कर रही है।
कब-कब सीएम रहे वीरभद्र सिंह?
- 1983-1990
- 1993-1998
- 2003-2007
- 2012-2017
4) प्रेम कुमार धूमल
// हिमाचल में बीजेपी के कद्दावर नेता। दो बार सीएम रहे। अभी हिमाचल में लीडर ऑफ अपोजिशन हैं। बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर धूमल के बेटे हैं। बीजेपी ने हिमाचल में आखिरी वक्त पर प्रेम कुमार धूमल को सीएम कैंडिडेट डिक्लेयर किया।
कब-कब रहे सीएम धूमल?
- 1998-2003
- 2008-2012
हिमाचल प्रदेश में ये थे चुनावी मुद्दे
1) बेरोजगारी
बीजेपी: हिमाचल में रैलियों के दौरान मोदी ने कहा कि 1500 करोड़ की योजनाएं शुरू होंगी तो रोजगार भी बढ़ेगा। टूरिज्म बढ़ेगा और लोगों का जीवन सुधरेगा। एम्स हिमाचल के लोगों के लिए संजीवनी बनकर आया है और ये अर्थव्यवस्था और टूरिज्म बढ़ाने में मदद करेगा।
कांग्रेस: राहुल ने मंडी में रैली के दौरान कहा था- कांग्रेस सरकार ने 70 हजार युवाओं को रोजगार दिए। हर महीने युवकों को 1000 रुपए का बेरोजगारी भत्ता दिया जा रहा है।
2) करप्शन
वीरभद्र सिंह और उनकी फैमिली पर मनी लॉन्डरिंग केस है। सीबीआई इसकी जांच कर रही है। बीजेपी लगातार हिमाचल में वीरभद्र के खिलाफ करप्शन के आरोपों को चुनावी मुद्दे के तौर पर भुनाने की कोशिश करती रही। 
जमानत पर है सरकार: नरेंद्र मोदी ने बिलासपुर रैली में कहा था, "मुख्यमंत्री का पूरा परिवार जमानत पर है। आप सीएम बदल क्यों नहीं देते? आखिर कैसे बदलें, पूरी पार्टी ही जमानत पर है।
3) डेवलपमेंट
अक्टूबर में मोदी हिमाचल में 1500 करोड़ रुपए की योजनाओं का एलान करके आए। इनमें IIT और AIIMS जैसे संस्थानों की योजना शामिल है।
4) रिपब्लिक-सी वोटर
राज्य कुलसीटें बीजेपी कांग्रेस अन्य
गुजरात 182 115 65
02
5) इंडिया न्यूज-CNX
राज्य कुलसीटें बीजेपी कांग्रेस अन्य
गुजरात 182 110-120 65-75
2-4
6) इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया
राज्य कुलसीटें बीजेपी कांग्रेस अन्य
गुजरात 182 99-113 68-82
1-4
7) न्यूज नेशन
राज्य कुलसीटें बीजेपी कांग्रेस अन्य
गुजरात 182 124-128 52-56
1-3
2012 विधानसभा और 2014 के लोकसभा में क्या स्थिति थी?
2012विधानसभा
वोट शेयर
2014लोकसभा (कुल सीटें26)
वोट शेयर
असेंबलीसीटों पर बढ़त
बीजेपी 115 47.9% 26 60.1% 162
कांग्रेस 61 38.9% 00 33.5% 17
19 साल से गुजरात में बीजेपी की सरकार
// राज्य में लगातार 19 साल से बीजेपी सत्ता में है। 2014 तक मोदी सीएम थे। उनके बाद आनंदीबेन पटेल सीएम बनीं। अभी विजय रुपाणि सीएम हैं।
// कांग्रेस की यहां पिछली सरकार 1995 में बनी थी।