शशि कपूर नहीं रहे, लंबी बीमारी के बाद निधन

uploaded on : 2017-12-05 12:46:36

मुंबई // पद्म भूषण शशि कपूर का सोमवार शाम को यहांं निधन हो गया। 79 साल के शशि कपूर लंबे वक्त से बीमार थे। उन्होंने आखिरी सांस यहां के कोकिलाबेन हॉस्पिटल में ली। उन्हें शनिवार को सीने में दर्द की शिकायत के बाद एडमिट किया गया था। शशि कपूर का जन्म कोलकाता में 18 मार्च, 1938 को हुआ था। साल 2011 में उन्हें पद्म भूषण पुरस्कार और साल 2015 में दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। प्रेसिडेंट रामनाथ कोविंद और पीएम नरेंद्र मोदी समेत कई हस्तियों ने उनके निधन पर शोक जताया है।

कब हुआ उनका निधन
// कोकिलाबेन हॉस्पिटल के सीईओ ने बताया कि उन्होंने सोमवार की शाम को 5:20 बजे अंतिम सांस ली।
कौन थे शशि कपूर?
// शशि कपूर पृथ्वीराज कपूर के सबसे छोटे बेटे थे। पृथ्वीराज कपूर के तीन बेटे थे। राज कपूर, शम्मी कपूर और शशि कपूर।
उनका परिवार
// शशि कपूर की वाइफ जेनिफर का निधन कैंसर से 1984 में हुआ था। करीबी बताते हैं कि जेनिफर के जाने के बाद वे काफी अकेले पड़ गए थे। उनके तीन बच्चे हैं- कुणाल कपूर, करन कपूर और संजना कपूर।
नाटक और फिल्मों की शुरुआत कब की?
// शशि कपूर ने पृथ्वी थिएटर के नाटक 'शकुंतला' से अपने करियर की शुरुआत की। उनकी पहली फिल्म 'आग' थी। इसे उनके बड़े भाई राज कपूर ने बनाई थी। 'आवारा' फिल्म में शशि कपूर ने अपने बड़े भाई राज कपूर के बचपन का रोल किया था।
// फिल्मों में उनकी एंट्री यश चोपड़ा की फिल्म 'धर्मपुत्र' से हुई थी। शशि कपूर ने करीब 160 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय किया था।
प्राण के साथ 9 तो अमिताभ बच्चन के साथ कीं 12 फिल्में
// 1970 से 1980 के बीच शशि कपूर ने प्राण के साथ 9 फिल्में ('बिरादरी', 'चोरी मेरा काम', 'फांसी', 'शंकर दादा', 'चक्कर पे चक्कर', 'राहू केतु' और 'मान गए उस्ताद') की।
// इसी तरह, 1974 से 1991 के बीच अमिताभ बच्चन के साथ उन्होंने 12 फिल्मों ('रोटी, कपड़ा और मकान', 'दीवार', 'कभी-कभी', 'ईमान धरम', 'त्रिशूल', 'काला पत्थर', 'सुहाग', 'दो और दो पांच', 'शान', 'सिलसिला', 'नमक हलाल', और 'अकेला') में बतौर को-स्टार काम किया।
मेरे पास मां है... डायलॉग से मिली शशि कपूर को नई पहचान
// यह डायलॉग सुपरहिट फिल्म 'दीवार' का है। इस फिल्म वे इंस्पेक्टर रवि वर्मा के रोल में थे। एक सीन में विजय यानी अमिताभ बच्चन कहते हैं- "मेरे पास बैंक बैलेंस है, बंगला है, गाड़ी है, तु्म्हारे पास क्या है...? जवाब में रवि यानी शशि कहते हैं- "मेरे पास मां है।"
मोदी से सहवाग तक इन हस्तियों ने दी श्रद्धांजलि
// प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- शशि कपूर का हुनर फिल्मों और थिएटर, दोनों में देखा गया। थिएटर को भी वो प्रमोट करते थे। आने वाली पीढ़ियां उनके शानदार अभिनय को याद रखेंगी। उनके निधन से दुखी हूं और शोक संतप्त परिवार के लिए अपनी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं।
// प्रेसिडेंट रामनाथ कोविंद ने शशि के निधन पर शोक जताते हुए कहा- भारतीय और अंतरराष्ट्रीय फिल्मों के सुप्रसिद्ध अभिनेता शशि कपूर के निधन के बारे में जान कर बहुत दुख हुआ। सार्थक सिनेमा को उनका योगदान और भारतीय रंगमंच को शक्ति देने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका हमेशा याद की जाएगी। उनके परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदनाएं।
// कांग्रेस ने अपने ट्विटर हैंडल @INCIndia के जरिए शशि के निधन पर शोक जताया। कहा- उनके निधन से इंडियन सिनेमा में एक खालीपन आ गया है। उनके निधन से हम दुखी हैं।
// क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने कहा- उनके डायलॉग याद रहेंगे। आप आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रेरणा बने रहेंगे। उनके दोस्तों और परिवार के प्रति संवेदनाएं।